भुखमरी को खत्म करने की अनोखी मुहिम: Fasting

Image for post
Image for post

आज के समय में हर इंसान अपनी जिंदगी में बहुत मगन (व्यस्त ) हैं। दिन भर काम के बोझ तले दबा रहता हैं और वो भी सिर्फ इसलिए ताकि वह अपने परिवार का पेट पाल सकें, अपने परिवार को दो वक़्त की रोटी दे सकें। आज हमारे देश की आबादी भी दिनो-दिन बढ़ती जा रही है, जिसके परिणामस्वरूप महंगाई, बेरोजगारी और भुखमरी भी बढ रही हैं। विश्व की लगभग 8.9% आबादी भूखे पेट सोती है। अधिक मेहनत करने पर भी बहुत से लोगों को दो वक़्त की रोटी के भी लाले पड़ रहें हैं।

‘भुखमर’ के कारण हमारे देश के लगभग 19 करोड़ लोग भूखे पेट सोते है-

अगर हम थोड़ी नजर अपने ही देश के गरीब व मध्यम वर्गीय परिवारो की स्थिति पर डालें। तो हम पाएगे कि हमारे अपने ही देश में आए दिन 19 करोड़ लोग भूखे पेट रहकर सोने को मजबूर हैं और प्रतिदिन लगभग 3,000 बच्चे भूख के कारण अपना दम तोड़ देते हैं। कुछ कुपोषण का शिकार हो जातें हैं, और प्रत्येक वर्ष अगर देखा जाए तो एड्स, मलेरिया और टी.बी. जैसी बीमारियों से जितने इंसान मरते हैं, उससे कहीं ज्यादा इंसान भूख के कारण मर जाते हैं।

वह संस्था जिस ने देश की दयनीय स्थिति को सम्भालने में अपना योगदान दिया-

हमारे देश में विभिन्न संस्थाएं ऐसी हैं, जो लोगों को खाना मुहैया कराती हैं। इनमें से डेरा सच्चा सौदा एक विश्व प्रसिद्ध संस्था है जो 134 मानवता भलाई के कार्य करती है। जिनमें से एक कार्य गरीब व जरूरतमंद लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था करना है। जिसमें डेरा सच्चा सौदा के लाखों अनुयायी अपना योगदान देते हैं। कहीं भी कोई प्राकृतिक आपदा जैसे बाढ़, भूकंप व सूखा पड़ता है, इस संस्था के लाखों अनुयायी राहत सामग्री का सामान लेकर पहुंच जाते हैं।

भुखमरी मिटाने का एक अनोखा विचार जो बाबा राम रहीम जी ने दिया- Unique Fasting

Image for post
Image for post

दुनिया में बहुत से लोग ऐसे होते है, जो उपवास रखते हैं। कभी अपने भगवान के लिए, कभी बच्चों के लिए, कभी अपने भाई के लिए, तो कभी अपने पति के लिए। लेकिन क्या आप जानते हैं इस एक अनोखे व्रत से हम लाखों जरूरतमंद लोगों की मदद करके उनकी ज़िन्दगी में बदलाव ला सकते हैं। आज दुनिया में लाखों लोग ऐसे है जो अपने गुरु संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणा से सप्ताह में एक दिन का व्रत रखते हैं और उस दिन के भोजन को गरीब व जरूरतमंद लोगों में दान करते हैं। ऐसा करके ये लोग लाखों लोगों की जिंदगी को खुशनुमा बना रहे हैं।

Food Bank-

आपने रुपए-पैसों के लेन-देन वाले बैंक के बारे में तो जरूर सुना होगा, लेकिन क्या आपने खाने के बैंक में के बारे में कभी सुना है। जी हां, Food Bank! जहाँ से जरूरतमंद लोगों को निःशुल्क राशन वितरित किया जाता है। इस संसार में बहुत से लोग ऐसे हैं, जो एक समय का खाना जुटाने में भी असमर्थ है। वहीं बहुत से लोगों को भूख के कारण अपनी जान गंवानी पड़ती है। ऐसे में डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने भूख से तड़पते लोगों के बारे में सोचा व अपने अनुयायियों से फूड बैंक बनाने का आह्वान किया जो हर जिले में ब्लाक स्तर पर खोले गए हैं। जिसके तहत गरीब व जरूरतमंद लोगों को खाना मुहैया कराया जाता है। पूज्य गुरु जी की पावन प्रेरणा पर चलते हुए डेरा सच्चा सौदा के करोड़ों अनुयाई सप्ताह में 1 दिन का व्रत रखते हैं और उस दिन के खाने को अपने Food bank में जमा कराते हैं। जहां से गरीब व जरूरतमंद लोगों को भोजन दान किया जाता है। पूज्य गुरु जी द्वारा चलाए गए Zero Hunger Drive के तहत आज लाखों लोग भुखमरी को खत्म करने का प्रयास कर रहे हैं। प्रत्येक वर्ष food bank के माध्यम से लाखों जरूरतमंद परिवारो को राशन वितरित किया जाता है।

Benefits of one day fasting-

एक ऐसा अनोखा व्रत जिसके अनेको फायदे हैं। पहला स्वास्थ्य लाभ, दूसरा आध्यात्मिक लाभ व तीसरा हम भुखमरी को खत्म करने में अपना योगदान दे सकते हैं।

1. Physical Health Benefits-

- Digestive System

व्रत का हमारे पाचन तंत्र पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। महीने में कम से कम तीन बार उपवास रखने से हमारी पाचन क्रिया दुरुस्त होती है। व्रत के दौरान हमारे पेट और लीवर को काफी आराम मिलता है। जिससे हमारा पाचन तंत्र भी सही से काम करता हैं।

- Immune System

उपवास रखने से शरीर का प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत होता है। इस वजह से शरीर में बिमारियों से लड़ने की क्षमता यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है। इसके अलावा न्यूरॉल्जिया, कोलाइटिस, थकान, कब्ज और सिरदर्द होने का खतरा काफी कम हो जाता है।

- Memory Power

आपके दिमाग की क्षमता को बढ़ाने में भी उपवास काफी कारगर है। अगर आपका खान-पान अच्छा है और आप हफ्ते में एक बार उपवास रखते हैं। तो इससे आपकी सोचने की क्षमता और यादाश्त में तेजी आएगी। इसके अलावा इससे हमारे दिमाग में ब्रेन डेराइव्ड न्यूरोट्रॉफिक फैक्टर (BDNF) नाम का प्रोटीन काफी मात्रा में बढ़ता है। यह प्रोटीन हमारे दिमाग की कार्यशैली को नियंत्रित करता है। इससे दिमाग शांत और स्वस्थ रहता है

- Remove stress

उपवास मानसिक शांति का सबसे बेहतर विकल्प होता है। इससे तनाव, चिंता और अवसाद से बचा जा सकता है। व्रत रखने से मन शांत रहता है और हमारी इच्छाशक्ति भी मजबूत होती है।

- Body Detoxification

एक दिन का उपवास रखना हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद है। आमतौर पर देखा जाए तो लोग दिनभर में तरह-तरह के व्यंजन खाते हैं। तो वह हमारे शरीर में जमा हो जाते हैं। अगर ऐसे में हम सप्ताह में या महीने में 1 दिन का व्रत रखते हैं, तो उस दिन हमारे शरीर द्वारा कोई भोजन नहीं खाया जाता और हमारे शरीर में मौजूद फैट ऊर्जा में परिवर्तित हो जाता है। इसके साथ ही जब हम एक दिन भोजन ग्रहण नहीं करते और केवल पानी या तरल पदार्थ का सेवन करते हैं तो हमारे शरीर से सभी विषैले तत्व बाहर निकल जाते हैं और हमारा शरीर detox हो जाता है।

-Help in weight loss

अगर महीने में दो या तीन उपवास रखे जाएं, तो इससे आपका शरीर हल्का महसूस करेगा और इससे वजन कम करने में भी सहायता मिलती है। व्रत रखने से शरीर का फैट ऊर्जा में परिवर्तित हो जाता है, जिससे धीरे-धीरे वजन कम होने लगता है। इसके साथ ही मेटाबोलिज्म भी boost up होता है।

- Healthy Intestine

उपवास रखने से हमारी अंतड़ियां भी स्वस्थ रहती है। आमतौर पर हम दिन भर खाने में कुछ ना कुछ खाते रहते हैं। जिस से हमारी आंतड़ियो को आराम नहीं मिल पाता है। ऐसे में अगर हम एक दिन का व्रत रखते हैं तो यह हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद है। इससे जिस दिन हमारा व्रत होगा उस दिन हम भोजन का सेवन नहीं करेंगे, तो हमारी आंतड़ियो में जो खाना बचा हुआ है, व्रत वाले दिन आतड़िया हमारे शरीर में बचे हुए खाने को हज्म कर लेती है।

- Eliminate cancer cells

एक शोध के अनुसार पाया गया जो सप्ताह में या महीने में व्रत रखते हैं, उनके शरीर में बन रहे कैंसर के सेल धीरे-धीरे खत्म हो जाते हैं। इसके लिए वैज्ञानिकों ने चूहों पर अध्ययन किया। उन्होंने कैंसर ग्रस्त चूहों के लिए दो ग्रुप बनाएं। एक को भरपूर खाना दिया और दूसरे को उपवास रखवाया। रिजल्ट में पाया गया कि व्रत रखने वाले चूहों में कैंसर कोशिकाएं धीमी गति से बड़ी। उपवास वाले चूहे 908 दिन तक जीवित रहे वहीं भरपूर खाना खाने वाले चूहे केवल 806 दिन तक जीवित रहे।

2. Spiritual Benefits-

- Improve focus during Meditation

जिस दिन हम व्रत रखते हैं तो उस दिन हमारा ध्यान भक्ति में ज्यादा लगता है व भगवान की याद भी ज्यादा आती है और एकाग्रता बढ़ती है।

- Helps to get God’s benevolence soon

उपवास रखने से जब हमारा भक्ति में ध्यान लगता है, तो हमें भगवान की प्राप्ति जल्दी होती है।जिससे हमारे अंदर से तमाम बुराइयों का नाश होता है व सकारात्मकता बढ़ती है।

3. Starvation will end-

व्रत रखने का सबसे बड़ा फायदा यह हैं कि हम हफ़्ते में जो एक दिन का उपवास रखते हैं व अपने उस दिन के भोजन को अगर हम किसी बेसहारा व जरूरतमंद को खाने को देते हैं, उससे उसकी व उसके परिवार की भूख तो शांत होती ही हैं, बदले में हमे उनकी लाखों दुआएं हमे मिल जाती हैं।

Source of inspiration-

पूज्य गुरु संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने भुखमरी को खत्म करने के लिए अनोखी पहल की है वो भी सप्ताह में मात्र एक उपवास रखने से, जिसके अनेको लाभ है। पूज्य गुरु जी की पावन शिक्षा से डेरा सच्चा सौदा के लाखों अनुयायी जरूरतमंद व गरीब लोगों को राशन वितरित करते हैं व भुखमरी को खत्म करने में अपना योगदान दे रहे हैं।

Conclusion -

तो आईए आज से हम भी क्यो न यह प्रण ले कि हम भी हफ़्ते में एक दिन का उपवास रखें और उस दिन के हमारे भोजन से किसी भूखे चेहरे की मुस्कान बन जाएँ।

Get the Medium app

A button that says 'Download on the App Store', and if clicked it will lead you to the iOS App store
A button that says 'Get it on, Google Play', and if clicked it will lead you to the Google Play store