परमार्थी कार्य कर मनाया गया बेपरवाह शाह मस्ताना जी महाराज का जन्म दिवस- 30 नवंबर (कार्तिक पूर्णिमा)

Image for post
Image for post

सिरसा जिले में स्थित डेरा सच्चा सौदा मानवता भलाई कार्यो में 24×7 घंटे तत्पर रहती है। आज 30 नवंबर कार्तिक पूर्णिमा के दिन डेरा सच्चा सौदा के संस्थापक बेपरवाह शाह मस्ताना जी महाराज के जन्म दिवस को मानवता भलाई के कार्य कर मनाया गया। आपको बता दे बेपरवाह शाह मस्ताना जी महाराज ने वर्ष 1948 में सर्व धर्म संगम डेरा सच्चा सौदा की स्थापना की, जहां सभी धर्मों के लोग आते हैं और मानवता की मिसाल कायम करते हैं। बेपरवाह साईं जी ने मानवता का ऐसा बीज बोया जो आज विश्व भर में लहलहा रहा है।

आपको बता दें महामारी के चलते इस बार जन्मदिवस की लाइव नाम चर्चा का आयोजन दोपहर 11:00 से 1:00 बजे तक किया गया। जिसका सीधा प्रसारण डेरा सच्चा सौदा के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर @derasachasauda.org व YouTube Channel DSSNewsAndUpdates पर किया गया। आपको बता दें नामचर्चा के बाद एक Special documentary भी दिखाई गई।

Image for post
Image for post

इस पावन अवतार दिवस को डेरा श्रद्धालुओं ने ब्लॉक स्तर पर रक्तदान कर, जरूरतमंदो को राशन दान व सर्दी के गर्म कपड़े दान कर, पौधारोपण कर व अन्य मानवता भलाई के कार्य करके मनाया।

इस पावन अवसर पर आस-पास से आई हजारों की तादाद में साध-संगत ने पूरे शिष्टाचार व सरकार द्वारा जारी किए गए गाइडलाइंस का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग करके, मास्क लगाकर, सत्संग पंडाल में रिकॉर्डिंग वीडियो के माध्यम से पूज्य गुरु संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सा के अनमोल वचनों को श्रवण किया।

Incarnation Day Glimpse’s -

आपको बता दें डेरा सच्चा सौदा के संस्थापक बेपरवाह शाह मस्ताना जी महाराज के जन्म दिवस को डेरा सच्चा सौदा द्वारा मानवता भलाई के कार्य कर मनाया गया जो इस प्रकार है -

2 Home keys provided by volunteers to homeless family under Homely Shelter initiative

Image for post
Image for post

बेपरवाह साईं जी के जन्म दिवस के उपलक्ष में 2 जरूरतमंद परिवारों को घर बनाकर चाबियां सौंपी गई। आपकी जानकारी के लिए बता दे, डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां द्वारा 134 मानवता भलाई के कार्य चलाए गए हैं। जिनमें से कार्य Homely Shelter है। आशियाना मुहिम के तहत गरीब व जरूरतमंद परिवारों को घर बना कर दिए जाते हैं। इस संसार में बहुत से लोग ऐसे हैं, जिनके पास अपना सपनों का घर नहीं है। इनके सपनों को पूरा किया डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख संत डॉक्टर एमएसजी ने। पूज्य गुरु जी की पावन प्रेरणा से आज डेरा सच्चा सौदा के लाखों अनुयायी गरीब व जरूरतमंद लोगों को घर बना कर दे रहे हैं।

Winter kits distributed to 130 needy families-

Image for post
Image for post

आपको बता दें पूज्य बेपरवाह शाह मस्ताना जी महाराज के जन्म दिवस के उपलक्ष्य में डेरा सच्चा सौदा द्वारा 130 जरूरतमंद परिवारो व गर्भवती महिलाओं (60 पुरुष, 70 महिलाएँ) को winter kits दी गई। जिसमें सर्दी के गर्म कपड़े जैसे सॉक्स, cap, gloves आदि जरूरत का सामान शामिल है। जैसा कि आपको बताया कि डेरा सच्चा सौदा द्वारा 134 मानवता भलाई के कार्य की जाती है। इन्हीं कार्यों मे से एक गरीब व जरूरतमंद लोगों को कपड़े दान करना है। पूज्य गुरु संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणा से डेरा सच्चा सौदा के लाखों अनुयायी जरूरतमंद लोगों को समय-समय पर कपड़े दान करते हैं।

14 Dowry free marriage solemnized-

Image for post
Image for post

आपको बता दें दहेज के अभिशाप को समाप्त कर और समाज में एक सकारात्मक सोच लाने के तहत डेरा सच्चा सौदा में आज पूज्य बेपरवाह मस्ताना जी महाराज के जन्म दिवस के उपलक्ष्य में 14 दहेज मुक्त विवाह संपन्न हुए हैं और इन विवाहित जोड़ों के परिवारों ने मानवता भलाई के कार्य में भी अपना योगदान दिया। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां जी के एक आह्वान से डेरा सच्चा सौदा के लाखों अनुयायी दहेज ना लेने और ना देने का प्रण ले चुके हैं।

One Kul Ka Crown marriage solemnized-

Image for post
Image for post

डेरा सच्चा सौदा मे आज ‘कुल का क्राऊन’ मुहिम के तहत एक शादी संपन्न हुई। जिसमें लड़की बारात लेकर आती है और लड़के के साथ शादी कर उसे अपने घर ले जाती है। हमारे समाज में अकेली लड़की के माता-पिता को अक्सर यह चिंता सताती है कि लड़के के बिना उनका वंश आगे कैसे बढ़ेगा। परंतु इस विषय पर चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां द्वारा एक मुहिम चलाई गई ‘कुल का क्राऊन’। इस initiative के तहत जिन दंपति के पास अकेली लड़की है, वह लड़की डेरे में शादी कर लड़के को अपने घर ले जा सकती है। इस मुहिम के तहत डेरा सच्चा सौदा में अब तक विभिन्न शादी हो चुकी है। जहां पर लड़की बारात लेकर जाती है और दूल्हे को विदा करवा कर घर ले आती है।

बेपरवाह शाह मस्ताना जी महाराज ने 1948 में राम-नाम का जो बीज बोया था, वह आज दिन-दुगनी, रात-चौगुनी लहलहा रहा है। आज डेरा सच्चा सौदा विश्व भर में अपनी मानवता भलाई कार्यो के लिए प्रसिद्ध हो रहा है। बेपरवाह साईं जी ने वचन किए थे कि हम नौजवान बॉडी में 7 वर्ष बाद आएंगे और साईं जी के वचन ज्यों के त्यों पूरे हुए।

Conclusion -

आज पूज्य गुरु संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणा पर चलते हुए डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी 134 मानवता भलाई के कार्यो में जुटे हुए हैं और देश व समाज को नई रहा दे रहे हैं।

Get the Medium app

A button that says 'Download on the App Store', and if clicked it will lead you to the iOS App store
A button that says 'Get it on, Google Play', and if clicked it will lead you to the Google Play store